Se ha denunciado esta presentación.
Se está descargando tu SlideShare. ×

bodhisattvaimageinscriptionofsarnath-220625103131-c4b6af1f.pptx

Anuncio
Anuncio
Anuncio
Anuncio
Anuncio
Anuncio
Anuncio
Anuncio
Anuncio
Anuncio
Anuncio
Anuncio
Próximo SlideShare
Lumbini inscription.pptx
Lumbini inscription.pptx
Cargando en…3
×

Eche un vistazo a continuación

1 de 15 Anuncio

Más Contenido Relacionado

Más reciente (20)

Anuncio

bodhisattvaimageinscriptionofsarnath-220625103131-c4b6af1f.pptx

  1. 1. कनिष्क कालीि बोनिसत्व प्रनिमा लख - वर्ष 3 Dr. Priyanka Singh Banaras Hindu University
  2. 2. यनि लख
  3. 3. कनिष्क कालीि बोनिसत्व प्रनिमा लख - वर्ष 3 प्रानि स्थल सारिाथ, वाराणसी विषमाि नस्थनि सारिाथ संग्रहालय,वाराणसी भार्ा संस्कृि प्रभानवि प्राकृि नलनि कुर्ाणकालीि ब्राह्मी ोजकिाष एफ0 ओ0 ओरखटखल वर्ष 1904-05 आिार-उिादाि बोनिसत्व प्रनिमा एवं छत्र-यनि
  4. 4. अनभलख ों की संख्या िीि िंनि प्रथम अनभलख -10 नििीय अनभलख -2 िृिीय अनभलख -3 निनथ कनिष्क कख िृिीय शासि वर्ष, हखमन्ि (ऋिु) , 22 नदवस
  5. 5. राजिीनिक महत्वः . कनिष्क कख शासि काल कख िृिीय वर्ष का उल्लख है। . िूवी उत्तर प्रदखश िर कनिष्क का अनिित्य था। . लख में महाक्षत्रि रिल्लाि एवं क्षत्रि विस्िर का उल्लख है। . रिल्लाि एवं विस्िर कुर्ाण साम्राज्य कख अन्िषगि वाराणसी क्षखत्र में महाक्षत्रि िथा क्षत्रि नियुि थख।
  6. 6. बौद्ध संघ: नभक्षु बल िथा नभक्षुणी बुद्धनमत्रा . अनभलख में बौद्ध िमष कख चार िररर्दों का उल्लख नमलिा है- नभक्षु नभक्षुणी उिासक उिानसका . कुर्ाण काल में श्रावस्िी, कोसम, मथुरा एवं सारिाथ कख नभक्षु-नभक्षुणी संघों में िरस्िर घनिष्ठ सम्बन्ि द्रिव्य है।
  7. 7. नभक्षु बल का उल्लख सारिाथ बोनिसत्व प्रनिमा लख कख अनिररि कनिष्क कख सहखि-महखि िार्ण छत्र-यनि लख एवं हुनवष्क कख मथुरा बौद्ध मूनिष लख वर्ष 33 में नमलिा है। .नभक्षु बल को त्रैनिटक (नत्रनिटक का ज्ञािा) कहा गया है। . नत्रनिनटकाचायाष बुद्धनमत्रा का िाम कनिष्क कख कोसम बौद्ध मूनिष लख िथा हुनवष्क कख मथुरा बौद्ध मूनिष लख वर्ष 33 में नमलिा है
  8. 8. कलात्मक महत्वः . कुर्ाण कालीि मूनिष कला कखन्द्र- मथुरा एवं गान्िार . बोनिसत्व की प्रनिमा एवं छत्र-यनि मथुरा कख लाल बलुए ित्थर सख निनमषि है। . स्िम्भ अष्ठिहल है।
  9. 9. अनभलख सं0- 1 , 2
  10. 10. अनभलख सं0- 3
  11. 11. कुर्ाणकालीि ब्राह्मी नलनि
  12. 12. सहखि-महखि िार्ाण छत्र-यनि लख
  13. 13. कोसम बौद्ध मूनिष लख
  14. 14. हुनवष्क कालीि मथुरा बौद्ध मूनिष लख वर्ष-33

×